कान में खुजली हो तो क्या करें | Ear Itching Causes & Treatment in Hindi

कान में खुजली होना एक आम समस्या है जो कई कारणों से हो सकती है। पर्यावरणीय परेशानियों, त्वचा की स्थिति, एलर्जी और संक्रमण के कारण कान में खुजली होना शुरू हो सकता है। कान की एलर्जी का सबसे आम लक्षण कान के अंदर की नलिका में तेजी से खुजली होना है। कई बार कान के अंदर की नलिका से लालिमा और सूजन हो सकती हैं। सही तरीके से इसका इलाज करने के लिए Kan me khujli hone ke karan जानना जरूरी है। इस लेख में हम चर्चा करेंगे कि कान में खुजली हो तो क्या करें और कान की एलर्जी का इलाज कैसे करें।

ear itching home remedy and treatment in hindi

Ear Itching Treatment in Hindi (कान में खुजली हो तो क्या करें)

यह बैक्टीरिया या एलर्जी के कारण हो सकता है। कुछ घरेलू उपचार हैं जिनका उपयोग आप कानों की खुजली से राहत पाने के लिए कर सकते हैं।

लहसुन का तेल, एप्पल साइडर विनेगर, चाय के पौधे का तेल और हाइड्रोजन पेरोक्साइड जैसे प्राकृतिक उपचार खुजली वाले कानों से जुड़ी खुजली से राहत दिलाने में कारगर हैं।

कान की एलर्जी का घरेलु इलाज संभव है। इन आसान उपायों से आप कानों की खुजली से राहत पा सकेंगे।

  1. अगर कान में सूखापन है और इसकी वजह से खुजली हो रही है तो ऐसे में कान में जैतून के तेल या बेबी ऑयल की कुछ बूंदें डालें।
  2. यदि कान में कोई संक्रमण है तो डॉक्टर कुछ जीवाणुरोधी दवाएं लिख सकते हैं।
  3. यदि आपके कान में फूड एलर्जी के कारण खुजली होती है तो डॉक्टर से परामर्श करें।
  4. अगर कान में मैल जमा हो जाए तो डॉक्टर से संपर्क करें।
  5. यदि कान में खुजली एलर्जिक राइनाइटिस के कारण होती है तो डॉक्टर एंटीहिस्टामाइन लेने की सलाह दे सकते हैं।

कान में खुजली होने के कारण (Ear Itching Causes in Hindi)

कान में खुजली होने के कारण निम्नलिखित हैं।

कान में इंफेक्शनकान में गंदगी
फूड एलर्जीड्राई ईयर

Ear Itching Home Remedy in Hindi

1. गुनगुना तेल

कान में होने वाली खुजली से निजात पाने के लिए गुनगुना तेल सबसे अच्छा उपाय है। कान में गुनगुना तेल लगाने से कान की खुजली से काफी राहत मिलती है। कान की खुजली को कम करने के लिए आप जैतून का तेल, नारियल का तेल, टी ट्री ऑयल, सरसों का तेल या लहसुन का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं।

विधि: सबसे पहले एक कटोरी में शुद्ध तेल डालकर थोड़ा गर्म कर लें। गर्म होने के बाद तेल को हल्का गुनगुना रहने के लिए रख दें। तेल का इस्तेमाल करने से पहले एक बार उसे छूकर देख लें कि वह ज्यादा गर्म तो नहीं है। अगर तेल गुनगुना हो गया है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। अब रूई को तेल में डुबाकर एक-दो बूंद कान में डालें। अगर कान के बाहर खुजली हो रही है तो आप अपनी उंगली से इस हिस्से पर तेल लगा सकते हैं। रुई इतनी मोटी होनी चाहिए कि वह कान के अंदर न जाए। इस तरह आप कान की खुजली को कम कर सकते हैं।

2. सिरका

सफेद सिरका कान में खुजली के लिए बेहतरीन घरेलू उपचार है। इसका बेस्ट रिजल्ट देखने के लिए सफेद सिरके को अल्कोहल के साथ मिला लें। यह न केवल खुजली को कम करता है बल्कि प्रभावित क्षेत्र को साफ रखने में भी बहुत मदद करता है।

विधि: सफेद सिरके का उपयोग करने के लिए आपको केवल एक चम्मच सिरका, एक चम्मच अल्कोहल और रुई की आवश्यकता होती है। सबसे पहले दोनों मिश्रण को मिला लें और फिर इस मिश्रण में रुई डुबोकर प्रभावित कान पर लगाएं। मिश्रण की एक या दो बूंद ही काफी है।

3. हाइड्रोजन पेरॉक्साइड

अगर आप बेहतर परिणाम पाना चाहते हैं तो हाइड्रोजन पेरॉक्साइड का इस्तेमाल कर सकते हैं। हाइड्रोजन पेरॉक्साइड ईयरवैक्स को हटाने में मदद करता है और कान को साफ रखने में भी काफी मदद करता है। यह कान के अंदर की एलर्जी को दूर करने में काफी मददगार है।

विधि: हाइड्रोजन पेरॉक्साइड की कुछ बूंदों को प्रभावित कान में डालें। कुछ सेकंड के बाद आपको बुलबुले दिखाई देंगे। बुलबुले के रुकने का इंतजार करें और फिर धो लें। कान की खुजली को ठीक करने के लिए आप इस विधि को 8 दिन में एक बार आजमा सकते हैं।

4. एलोवेरा

एलोवेरा सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह हर बीमारी को दूर करने में मदद करता है। एलोवेरा कान में खुजली की समस्या से निजात दिलाने में भी काफी मददगार है। एलोवेरा कान के पीएच स्तर को संतुलित करने में मदद करता है और यह सूजन को कम करने में भी मदद करता है। अगर आप कान की खुजली (Ear Itching) को कम करने के लिए बेताब हैं तो एलोवेरा जेल की कुछ बूंदों को कान में डालकर कान की खुजली को कम कर सकते हैं। इस उपाय का उपयोग करने से पहले, आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

5. पानी और ऐल्कोहॉल

अगर आपके कान में खुजली नहीं जा रही है तो आप कान को साफ करने के लिए पानी और ऐल्कोहॉल का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक बात याद रखनी चाहिए कि ऐल्कोहॉल का अधिक प्रयोगनहीं करना चाहिए। ऐल्कोहॉल का उपयोग करने से पहले आपको इसे पानी से मिलाना चाहिए।

विधि: सबसे पहले 3 बड़े चम्मच पानी और 3 बड़े चम्मच ऐल्कोहॉल और कुछ रुई के टुकड़े लें। दोनों पदार्थों को मिलाएँ और रुई की सहायता से अपने कान में लगाएं। कुछ मिनट के लिए इसे लगाएं रखें और उसके बाद आप झुककर कान का पानी निकाल सकते हैं। इससे आपको कान खुजली से छुटकारा मिल जाएगा।

6. गर्म पानी का सेक करें

कान की खुजली से आपको छुटकारा पाना है तो आप कान की खुजली से छुटकारा पाने के लिए आप गर्म पानी का सेक कर सकते हैं। यह एक सुरक्षित घरेलू उपाय है।

विधि: पानी को गर्म करें और गैस से नीचे उतार दें। अब इसे एक साफ कपड़े से ढक दें। कपड़ा गरम होने पर 10 मिनट इसे कुछ सेकंड तक कानों पर लगाएं।

7. भाप लें

अगर आपको कान की खुजली दूर करना है तो आप गरारे या भाप का इस्तेमाल कर सकते हैं। गरारे करने के लिए आपको नमक के पानी का इस्तेमाल करना है। सुरक्षा के लिए सिर को तौलिए से ढकने के बाद आप गर्म पानी करके भाप ले सकते हैं। भाप लेने से आपके कान में होने वाली खुजली को आराम मिलेगा।

आगे पढ़ें : दांत को मजबूत कैसे करें

कान की एलर्जी से कैसे बचें (Ear Itching Safety Tips in Hindi)

  • कान में माचिस के तिल्ली जैसे अन्य पदार्थों डालने से बचें।
  • अगर आपको कान साफ करना है तो आप बाहर से किसी मुलायम पदार्थ से कान साफ करें।
  • स्विमिंग करते समय कान के छेद को बचाने के लिए आप ear plugs का इस्तेमाल जरूर करें।
  • कान की खुजली को कम करने के लिए मेडिकल स्टोर से दवाई ले सकते हैं और आप डॉक्टर की सलाह भी जरूर ले।
  • अगर आप कान की खुजली से ज्यादा परेशान हो रहे हैं और कान की खुजली ज्यादा बढ़ती ही जा रही है तो आप जल्द से जल्द डॉक्टर के पास जरूर जाएं।

आगे पढ़ें : सेक्स करने के फायदे

निष्कर्ष

यदि अगर आपको हमारा लिखा हुआ आर्टिकल अच्छा लगा तो आप इसे लाइक और शेयर जरूर कीजिए और अपने जरूरी दोस्तों तक पहुंच जाए और अगर हमारे इस आर्टिकल से आप कुछ को कुछ अच्छा अनुभव मिला है तो प्लीज हमसे जरूर शेयर कीजिए।

कृपया गलत कमेन्ट ना करें। लिंक वाली कमेन्ट को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

और नया पुराने